Karnataka Class 12 Results 2022 : कर्नाटक पीयूसी 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम जल्द, शिक्षा मंत्री ने बताई  तारीख

0
45

Karnataka PUC Class 12 Results: इस साल परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित की गईं थीं। हालांकि, बीते साल कोविड -19 के बढ़ते मामलों के बीच जून 2021 में उन्हें रद्द कर दिया गया था।

कर्नाटक में एसएसएलसी यानी कक्षा 10वीं के बोर्ड परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद राज्य के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री बीसी नागेश ने जल्द ही पीयूसी परीक्षा परिणाम जारी करने के संकेत दिए हैं. मंत्री नागेश ने कहा कि हाल ही में आयोजित प्री-यूनिवर्सिटी कोर्स (पीयूसी) परीक्षा यानी कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम जून के तीसरे सप्ताह में घोषित किए जा सकते हैं.

22 अप्रैल से 18 मई तक हुईं थीं 12वीं की परीक्षाएं

राज्य के शिक्षा मंत्री बीसी नागेश ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा कि हाल ही में पीयूसी परीक्षा सफलतापूर्वक आयोजित की गई है और मूल्यांकन प्रक्रिया अगले सप्ताह तक शुरू हो जाएगी। जून के तीसरे सप्ताह तक प्री-यूनिवर्सिटी कक्षा परीक्षाओं के परिणाम घोषित किए जाएंगे। पीयूसी के परिणाम परीक्षा आयोजक प्री-यूनिवर्सिटी शिक्षा विभाग द्वारा www.karresults.nic.in पर जारी किए जाएंगे। राज्य में पीयूसी परीक्षा 22 अप्रैल, 2022 से 18 मई, 2022 तक आयोजित की गई थी, जिसमें पूरे राज्य से छह लाख से अधिक छात्र उपस्थित हुए थे।

Read More 

परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित की गईं

इससे पहले, राज्य सरकार ने गुरुवार को कर्नाटक माध्यमिक शिक्षा परीक्षा बोर्ड (केएसईईबी) की आधिकारिक वेबसाइटों के माध्यम से माध्यमिक विद्यालय छोड़ने का प्रमाण पत्र (एसएसएलसी / कक्षा 10 वीं) परीक्षा परिणाम घोषित किया है। इस साल परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित की गई थीं। हालांकि, पिछले साल कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच जून 2021 में इन्हें रद्द कर दिया गया था।

ग्रामीण छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 91.32 फीसदी

प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा मंत्री बीसी नागेश ने कहा कि इस वर्ष ग्रामीण क्षेत्र का परिणाम बहुत अच्छा रहा है. बोर्ड की ओर से जारी रिजल्ट के आंकड़ों के मुताबिक एसएसएलसी परीक्षा में 85.63 फीसदी छात्र पास हुए. उन्होंने कहा कि इनमें ग्रामीण छात्रों ने शहरी छात्रों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया, जहां 91.32 प्रतिशत ग्रामीण छात्र उत्तीर्ण हुए, जबकि शहरी छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 86.54 प्रतिशत रहा.

Read More 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here