Top Careers In Medicine:अगर आप मेडिकल लाइन में intrestet है तो ये है 8 top क्लास कोर्स 

0
13

Top Careers In Medicine : मेडिकल स्ट्रीम से 12वीं करने वाले छात्रों के बीच कॉलेज में कोर्स की दौड़ शुरू हो गई है। मेडिकल के क्षेत्र में एमबीबीएस छात्रों की पहली पसंद है, लेकिन सीमित सीटें होने के कारण हर किसी का सपना पूरा नहीं हो पाता है। यहां हम एमबीबीएस के अलावा 8 ऐसे करियर विकल्प बता रहे हैं, जो मेडिकल के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ माने जाते हैं।

विभिन्न शैक्षणिक बोर्डों के 12वीं कक्षा के परिणाम घोषित हो गए हैं। जिसके साथ ग्रेजुएशन की तैयारी भी शुरू हो गई है। ऐसे में साइंस स्ट्रीम से 12वीं करने वाले छात्र अब मेडिकल क्षेत्र में बेहतर करियर विकल्प तलाश रहे हैं। यह सर्वविदित है कि सीमित सीटें और बड़ी फीस के कारण हर कोई एमबीबीएस में डॉक्टर नहीं बन सकता। ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि मेडिकल क्षेत्र में छात्रों के पास और क्या करियर विकल्प हैं। यहां हम शीर्ष 8 विकल्पों के साथ आए हैं जिन्हें चिकित्सा क्षेत्र में बहुत अच्छा माना जाता है।

READ MORE

1. बेचलर ऑफ मेडिकल लैब तकनीशियन (बीएमएलटी)

यह चिकित्सा क्षेत्र में स्नातक की डिग्री है। इसे छात्रों के बीच काफी पसंद किया जाता है. इस पाठ्यक्रम में रक्त, प्रयोगशाला उपकरण ए, कंप्यूटर के ऊतक निर्माण, सूक्ष्मदर्शी आदि पर पूर्ण प्रयोगशाला अभ्यास शामिल हैं। इस पाठ्यक्रम की अवधि 3 वर्ष है।

2. बेचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी (बीएएमएस)

बीएएमएस पाठ्यक्रम के दौरान, छात्रों को मुख्य रूप से प्राकृतिक जड़ी बूटियों के दवा के रूप में उपयोग के बारे में बताया जाता है। यह एक तरह से आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति की एक डिग्री है। इस कोर्स की अवधि 5.5 वर्ष है, जो व्यक्ति इसे पूरा करता है उसे आयुर्वेदिक डॉक्टर कहा जाता है।

3. बेचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी (बीएचएमएस)

होम्योपैथी वैकल्पिक चिकित्सा की एक विशेष प्रणाली है। BHMS कोर्स में प्राकृतिक उपचार शक्ति की मदद से किसी भी बीमारी को ठीक करने की जानकारी दी जाती है। इस कोर्स की अवधि 5.5 वर्ष है। होम्योपैथी में ग्रेजुएशन के बाद छात्र सरकारी क्षेत्र में डॉक्टर बनने के अलावा अपना क्लीनिक भी शुरू कर सकते हैं।

4. बेचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी (बीयूएमएस)

यह यूनानी चिकित्सा पद्धति का एक कोर्स है। इसमें छात्रों को यूनानी चिकित्सा, कसरत, टर्की स्नान और शल्य चिकित्सा आदि के बारे में जानकारी दी जाती है। इस पाठ्यक्रम की अवधि 4.5 वर्ष है। कोर्स पूरा करने के बाद यूनानी पद्धति के डॉक्टर के रूप में पहचान मिलती है।

READ MORE

5. बेचलर ऑफ डेंटल सर्जरी (बीडीएस)

डेंटल सर्जन मुख्‍य तौर पर दांतों की देखभाल करने के साथ दांतों व जबड़े की हड्डियों के विकार को सर्जरी के जरिए दूर करते हैं। इस कोर्स की अवधि भी 4 वर्ष है। कोर्स करने के बाद छात्र एक डेंटल सर्जन के तौर पर किसी भी हॉस्पिटल में कार्य करने के अलावा खुद का क्लिनिक शुरू कर सकते हैं।

6. बेचलर ऑफ फार्मेसी (बी. फार्मा)

जिन छात्रों का रूझान दवाओं की तरफ है वे बी. फार्मा का कोर्स कर फार्मासिस्ट के तौर पर अपनी शानदार करियर बना सकते हैं। इस कोर्स की अवधि 4.5 वर्ष होती है। कोर्स पूरा कर किसी भी दवा कंपनी के साथ जुड़कर कार्य किया जा सकता है।

7. बेचलर ऑफ फिजियोथेरेपी (बीपीटी)

इस कोर्स में एक्सरसाइज और मशीनों की मदद से शारीरिक विकारों को दूर करने की जानकारी दी जाती है। पुरानी बीमारियों को दूर करने में इनकी मदद ली जाती है। बीपीटी का कोर्स 4.5 साल का होता है।

8. बेचलर ऑफ ऑक्यूपेशनल थेरेपी (बीओटी)

इस कोर्स के बाद बीओटी कोर्स करने वाले छात्र विकलांग मरीजों का इलाज करते हैं। वे इन रोगियों को सुरक्षित और उचित रूप से खिंचाव और व्यायाम करने के लिए चिकित्सा सहायता प्रदान करते हैं। इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए 4.5 साल के इस कोर्स के साथ अच्छी कम्युनिकेशन स्किल भी जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here